ग्रामीण अंचल में खेलों का आयोजन स्थानीय प्रतिभाओं के आगे आने में सहायक

ग्रामीण अंचल में खेलों का आयोजन स्थानीय प्रतिभाओं के आगे आने में सहायक

रीवा जिले की चार जनपद पंचायत हुई खुले में शौच मुक्त
मुख्यमंत्री स्वच्छता सम्मान समारोह एवं विधायक कप कबड्डी प्रतियोगिता में मुख्यमंत्री श्री चौहान

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की उपस्थिति में आज रीवा जिले के जवा जनपद अन्तर्गत ग्राम अतरैला में मुख्यमंत्री स्वच्छता सम्मान समारोह एवं विधायक कप कबड्डी प्रतियोगिता 2017 का आयोजन हुआ। इस अवसर पर रीवा, सिरमौर, गंगेव और नईगढ़ी जनपद पंचायतों को खुले में शौच मुक्त घोषित किया गया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ग्रामीण अंचल में होने वाले खेलों के आयोजन स्थानीय प्रतिभाओं को आगे आने में सहायक होते हैं। उन्होंने कहा कि शासन स्तर से ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को निखारने के लिये बेहतर कोच और संसाधन मुहैया करवाने के सभी प्रयास किये जायेंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि कबड्डी जैसे स्थानीय खेल के आयोजन के लिये विधायक बधाई के पात्र हैं। उन्होंने सिरमौर में कबड्डी खेल के लिये इनडोर स्टेडियम के निर्माण की घोषणा भी की।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गाँव और शहर को साफ-सुथरा और स्वच्छ बनाने का कर्त्तव्य प्रत्येक व्यक्ति का है। आज रीवा जिले की जो चार जनपदें खुले में शौच मुक्त हो रही हैं वहाँ के जन-प्रतिनिधि, ग्रामीणजन और प्रशासनिक अधिकारी बधाई के पात्र हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि अब जरूरत इस बात की है कि यहाँ सतत निगरानी हो और लोग शौचालयों का उपयोग करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में प्रत्येक व्यक्ति को आवास देने के उद्देश्य से ग्रामीण आवास कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। कार्यक्रम में रीवा जिले में इस वर्ष 38 हजार आवास बनाये जायेंगे। उन्होंने कहा कि छात्रों को पढ़ाई के लिये दूर न जाना पड़े, इस उद्देश्य से शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न विद्यालयों का उन्नयन और महाविद्यालयों की स्थापना की जा रही है। अब कक्षा 12वीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाने वाले विद्यार्थी को उच्च शिक्षा हेतु प्रतिष्ठित संस्थानों में प्रवेश पर लगने वाली फीस शासन द्वारा वहन की जायेगी। किसानों के लिये शून्य प्रतिशत ब्याज पर ऋण सुविधा उपलब्ध करायी गयी है। नहरों का जाल बिछाकर असिंचित भूमि को सिंचित करने का कार्य प्राथमिकता से किया जा रहा है। उन्होंने युवाओं से अपील की कि मुख्यमंत्री युवा उद्यमी और स्व-रोजगार योजनाओं का लाभ लेकर अपना स्वयं का उद्यम स्थापित करने के लिये आगे आकर स्वावलम्बी बनें।

Advertisements