साहब कोई तो हमारी समस्या को तो सुन लो

बडवाह — सुनील नामदेव – साहब कोई तो हमारी समस्या को तो सुन लो —ग्राम पंचायत सिरलाय के सरपंच ,सचिव , द्वारा पंचायत कार्यो में अवैध रूप से वसूली करने व् पंचायत अंतर्गत होने वाले निर्माण में भाष्टाचार करने व् सी. सी . रोड में अनिमियताओ को लेकर ग्रामवासी एवं पंचगनो ने शुक्रवार को जनपद पंचायत कार्यालय में ज्ञापन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बडवाह के नाम जनपद पंचायत अधिकारी नहारसिंह अलावा को सोपा ज्ञापन के माध्यम से जिला कलेक्टर . जनपद पंचायर मुख्य कार्यपालन अधिकारी , तहसीलदार बडवाह के नाम की प्रतिलिपि भेजी गई|ज्ञापन में कहा गया है की पंचायत में मीटिंग में पांचो एवं उप सरपंच , द्वारा नल जल योजना की राशि का हिसाब माँगा गया तो सरपंच ,सचिव द्वारा दी गई ग्रामीणों को दी गई एन. ओ .सी . का कोई हिसाब नहीं है | पंचायत के सचिव द्वारा आने वाले हितग्राहियों से अवैध वसूली की जा रही है – हर कार्य के लिए यूप्यो की मांग की जा रही है- जिसकी कोई रसीद पंचायत या सचिव द्वारा नहीं दी जा रही है |एवं न ही उसका हिसाब पंचायत कार्यालय में उपलब्ध है | ज्ञापन में लिखा गया है की ग्राम पंचायत के अंतर्गत ग्राम सिरलाय के वार्ड . क्र. ६ में सी . सी. रोड का निर्माण कमल पाल के घर से १०५ मीटर का जो सी.सी रोड ३लाख एक हजार की राशी शासकीय निधि से प्राप्त हुई है उसका भी उपयोग निर्माण में ठीक प्रकार से नही किया जाकर मार्ग निर्माण में घटिया सामग्री का प्रयोग किया जा रहा है |तथा निर्माण कार्य में नियमो का पालन नहीं किया जा रहा है |जिसका सभी पचो व् उप .सरपंच व् ग्रामीण जन ने विरोध किया किन्तु सचिव द्वारा निर्माण कार्य में ,मनमानी की जा रही है |साथ ही वार्ड क्र. १५ सी . सी . रोड निर्माण जो किया गया है निर्माण होने के २ माह में ही सड़क उखड़ने लग गया है यह रोड निर्माण २ लाख ८३ हजार की लागत में किया गया है |किन्तु निर्माण सही गुणवंता के आधार पर नही कराये जाने कि वजह से पूरा रोड उखड गया है | इसी रकार इसी वार्ड में आगनवाडी का भवन स्थित है – किन्तु आगनवाडी मांगलिक भवन में लगाईं जा रही है व् मांगलिक का उपयोग किया जा रहा है |नाम मात्र की निर्माण समिति ग्राम पंचायत सिरलाय में सचिव द्वारा निर्माण कार्यो में गठन किया गया है किन्तु पंचायत द्वारा किये जा रहे निर्माण कार्यो में समिति के सदस्यों की सहमती किसी भी निर्माण कार्य में नही ली गई है |तथा सचिव व् सरपंच द्वारा मनमाने तरीके से निर्माण कार्य किये जा रहे |ज्ञापन में रवि राठोड सोनू वर्मा मोहन सरगरे रफीक खान हितेश वर्मा कलाबाई , ज्योतिबाई माया आदि उपस्थित थे |ज्ञापन का वाचन मोहन काग ने किया तथा आभार रितेश वर्मा ने माना

स्वास्थ विभाग ने बिना फर्मो बिना नाम के बाटे लाखो के चेक

बडवाह !स्वास्थ विभाग बड़वाह में अकाउंटेंट के पद पर कामिनी पांचाल ने हजारो रूपए की राशि के बिना नाम एवं बिना किसी फर्म के चेक जारी कर शासकीय खातो के माध्यम से पेमेंट कर दिया | यह मामला जब उजागर हुआ जब नगर के आर.टी.आई कार्यकर्त्ता हेमंत जायसवाल ने आर.टी.आई के तहत स्वास्थ्य विभाग बड़वाह की केश बुक की जानकारी विभाग से मागी |शासन के नियमअनुसार विभागीय योजनाओ में व्यय की गई हजारो की राशि का लेन देन केश बुक में प्रतिदिन लिखा जाना चाहिए लेकिन अकाउंटेंट की लापरवाही व् भ्रष्टाचार को अंजाम देने की नियत से १५ दिन तक केश बुक में कोई भी लिखा पड़ी नहीं की गई |जिला स्वास्थ्य अधिकारी ने इस मामले को सज्ञान में लेते हुए जिले से एक जाँच दल गठित कर जांच कार्यवाही के लिए बडवाह भेजा गया | स्वास्थ्य विभाग आर.सी.एच एवं एन.आर.एच.एम् की अकाउंटेंट कामिनी पांचाल द्वारा शासन के नियमानुसार स्वास्थ्य विभाग के आय व्य का विवरण मासिक जिला मुख्यालय भेजा जाता है | किन्तु जानकारी में मिले लेजर के अनुसार ३०.मार्च २०१५ को जब लेजर जिले पर भेजा गया तो वहा के आला अफसरों की भी लापरवाही प्रकाश में आई आला अफसरों ने भी लेजर को आख बंद करके ही जाच लिया |

आला अफसरों के द्वारा स्वास्थ्य विभाग के अकाउंटेंट की केश बुक गहराई से जाँची जाए तो लाखों की राशि का भ्रष्टाचार उजागर होगा |

शिकायतकर्ता हेमंत जायसवाल ने स्वास्थ विभाग बडवाह में किये जा रहे भ्रष्टाचार के मामले को लेकर सुचना के अधिकार के अनतर्गत वर्ष २०१४-१५ एवं वर्ष २०१५-१६ की केश बुक स्थयापित छायाप्रति मागी थी | जिसके जवाब में विभाग ने दो वर्ष अवधि की केश बुक के कुल १६६५७ प्रष्टो की प्रति प्राप्त करने के लिए श्री जायसवाल से ३४४२८ रूपये का शुल्क जमा करने हेतु सूचित किया गया |किन्तु चाही गई जानकारी के आवेदन देने में विभाग द्वारा इतनी समय अवधि व्यर्थ व्यतीत कर दी

जायसवाल को निशुल्क जानकारी प्राप्त करने की पात्रता मिल गई |इस मामले को जिलाधीश महोदय के कार्यालय को अवगत कराया तो जिला न्यायधीश ने स्वास्थ विभाग को निशुल्क जानकारी उपलब्ध करने के लिए आदेशित किया |भ्रष्टाचार करने वाले आला अधिकारी पूरी तरह काले पन्नो को नही देने की कोशिश में लगे थे |कलेक्टर कार्यालय एवं प्रथम लोक सुचना अधिकार को अपील करने पर स्वास्थ विभाग बडवाह ने १६६५७ पन्नो के बजाय मात्र ३३७ पृष्ठ ही उपलब्ध कराये |

अकाउंटेंट कामिनी पांचाल के द्वारा १५ दिवस तक केश बुक खाली रखे जाने के मामले में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ अधिकारी खरगोन कार्यालय से डॉ .बी .एस कनेय , धीरज आर्य एवं लेखापाल सुरेश वर्मा के दल द्वारा जाच कर प्रतिवेदन सी.एम्.एच.ओ .कार्यालय को सोपा |

. सी.एम्.एच.ओ.कार्यालय खरगोन से २०नवम्बर को पत्र क्रमाक १३५९९ के द्वारा स्वास्थ विभाग सीबी.एम्.ओ बडवाह को जारी पत्र में आवेदक हेमंत जायसवाल को १६६५७ पन्नो में से मात्र ३३७ पृष्ठ उपलब्ध कराने पर आपति जताते हुए जल्द से जल्द शेष पृष्ठ उपलब्ध कराने के लिए आदेशित किया |

इनका कहना है —–विभाग द्वारा यदि बिना नाम एवं बिना फर्म के चेक जरी किये गए है तो यह गबन की श्रेणी में आता है |जाच में जो भी दोषी पाया जायेगा उस पर स्वास्थ विभाग द्वारा कड़ी कार्यवाही की जाएगी |

गोविन्द गुप्ता जिला स्वास्थ अधिकारी खरगोन

शासकीय जमीनो पर हो रहे पक्के अतिक्रमण , अधिकारियो नही ले रहे सुध

बडवाह सुनील नामदेव!नगर पालिका के अंतर्गत आने वाले वार्ड क्र ९ महेश्वर रोड स्थित पशु चिकित्साल्य के पास नगर पालिका की शासकीय भूमि पर पूर्व में कुछ दुकानदारो के द्वारा अवेध अतिक्रमण कर कच्ची दुकान का निर्माण कर लिया गया है |किन्तु नपा. के अधिकारियो की रूचि इन अतिक्रमण कारियो को हटाने में नही दिख रही है | अतिक्रमण कारियों ने कच्चे अत्रिक्रमण दुकानों को कब्जे में लेकर दुकाने पक्की बना ली गई | दुकान दारो ने स्वयं के द्वारा संचालित न करते हुए अच्छे दामो में अन्य लोगो को मोखिक लिखा पड़ी कर बेच दी |यह मामला प्रकाश तब आया जब विक्रेता के द्वारा क्रेता को बेचे जाने पर शासकीय भूमि पर दुकान का पक्का निर्माण कर लिया गया | यह मामला नगर पालिका महेश्वर रोड दुकान क्रमाक ८ शासकीय भूमि पर बिना अनुमति से रात्रि में आनन् फानन किया जा रहा है|जबकि१०० मीटर की दुरी पर ही नगर पालिका कार्यालय बना हुआ है | बावजूद इसके वरिष्ठ अधिकारीयो की इस शासकीय जमीन पर चल रहे निर्माण पर एक बार भी नजर नही पड़ी |सूत्रों से जानकारी मिली की कि पूर्व में मोहम्मद इशाक हाजी सुलतान निवासी गणगोर घाट बडवाह के द्वारा १० बाय १० की शासकीय जमीन पर कब्ज़ा करने के पश्चात अन्य को बेच दी |नगर पालिका के द्वारा इस स्थान पर किसी को भी दुकान आवंटित नही की गई है | बावजूद इसके मोहमद इशाक के द्वारा दुकान मालिकाना हक नही होने के बावजूद भी १४ अगस्त २००१ में मोखिक लिखा पड़ी कर मोटी रकम लेकर दुकान शेरू पिता राजाराम गुर्जर निवासी बडदीया सुरता के नाम कर दी |
विगत दिनों से रात्रि में दुकान की शटर बंद कर दुकान का निर्माण कार्य चोरी छुपे चारो कोने पर पतरो की आड़ कर पक्का निर्माण कार्य जोरो से हो रहा है |इस चल रहे अवेध निर्माण कार्य को लेकर जब वार्ड पार्षद सेवकराम गुर्जर से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया की पूर्व में चल रहे निर्माण कार्य की जानकारी वार्ड वासियों के माध्यम से प्राप्त हुई थी जिसको लेकर मेरे द्वारा नगर पालिका के वरिष्ठ अधिकारियो को इस चल रहे निर्माण कार्य को रोकने की बात कही गई थी | नपा के अधिकारियो के द्वारा मोके पर जाकर केवल चस्पा भी किया गया था | इसी प्रकार नगर के इंदौर रोड महेश्वर रोड ,खंडवा रोड ,एम् जी रोड, सुभाष मार्केट,जेसे व्यस्तम मार्गो पर न .पा . की शासकीय भूमि पर अवेध अतिक्रमण हो चुके है |जिससे ना तो नपा. को आय है और ना ही नपा. द्वारा इन दुकानदारो से कोई शुल्क वसूला जा रहा है |यदि राजस्व विभाग इस और कड़ी कार्यवाही करता है तो नगर का कई अतिक्रमण हट सकता है |बड़ते अतिक्रमण के कारण कई मार्गो पर मालिकाना हक में चला रहे दुकानदारो को आये दिन बड़ते यातायात के कारण काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है |पूर्व में तात्कालीन एस डी एम् आर एस राजपूत एवं तहसीलदार संजय शर्मा को भी कई बार नगर के जन प्रतिनिधियों ने बड़ते हुए अतिक्रमण की और चर्चा की थी |किन्तु आज भीं नगर वासियों को इस अतिक्रमण के कारण कई परेशानियों से झुझना पड़ रहा है |और आज भी स्थिति जस की तस नजर आ रही है |

इनका कहना है ———- नपा की शासकीय भूमि पर हो रहे पक्के अतिक्रमण की शिकायत मुझे मिली है |शीघ्र ही नोटिस देकर कार्यवाही की जाएगी |
विजय बहादुरसिंह चोहान मुख्य कार्यपालन अधिकारी बडवाह
इनका कहना है ———नपा के समीप पशु चिकित्सालय परिसर के बहार अतिक्रमण बड रहा है |शीघ्र ही नोटिस भिजवाए जायेगे |
गिरधारी वर्मा नगर पालिका राजस्व अधिकारी बडवाह